List Of Glaciers In Himachal Pradesh | Glaciers In Himachal |Aliied|HAS|NT

List of Glaciers in Himachal Pradesh

What is Glacier?

पर्वतीय क्षेत्रों में पुरे वर्ष ठण्ड पड़ने के कारण वर्फ की बड़ी बड़ी विशाल चटाने बन जाती है। लगातार दबाब पड़ने के कारण ये Glacier कठोर होते जाते है। यही Glacier पीघल कर नदियों के लिये जल उपलव्ध करवाते है।  

Glacier पिघलते कैसे है?

समान्य मोसम और समान्य गर्मी में Glacier के पिघलने की प्रक्रिया बहुत धीमी होती है। जबकि बहुत अधिक गर्मी में ये Glacier पिघलने लगते है जिससे नदियों को पानी मिलता है। गर्मियों में बहुत अधिक वर्षा होने के कारण ये Glacier पिघलने लगते है और कभी कभी ये बाड़ का रूप भी धारण कर लेते है। सर्दियों में Glacier पिघलने की प्रक्रिया समान्य होती है।                            

Himachal Pradesh में Glacier को स्थानीय भाषा में “शिगड़ी” कहा जाता है।   

बड़ा शिगड़ी Glacier:

  • यह Glacier लाहौल स्पीती में स्थित है।
  • इस Glacier की लम्बाई 25 KM है और चोडाई 3 KM है। 
  • इस Glacier से चन्द्रा नदी को पानी मिलता है मतलब जब Glacier पिघलता है तब चन्द्रा नदी को इस Glacierसे पानी मिलता है। बाद में ये चिनाब नदी में मिल जाती है।
  • एंड्रयू विल्सन ने 1873 ई. में लाहौल स्पीती को Glacier की घाटी कहा था। 
  •  सबसे पहले Captain Harkot ने 1869 . में बड़ा शिगड़ी Glacier को पार किया था।
  • 1958 ई. में स्टीफेंस और 1970 . में Major Baljit Singh ने इस Glacier पर पूर्ण रूप से चढाई की थी

1) लाहौल में तीन घाटियाँ है:

  • चन्द्रा घाटी
  • भागा घाटी
  • चन्द्रभागा घाटी    
  • Chandra valley is also called Rangoli“. Koksar is the first village of this valley.

2)  Name of some other Glacier of Chandra Valley:

  • छोटा शिगड़ी, पाचा, कुल्टी, शिपतिंग, शामुद्री, तापन, गेफेंग
  • गेफेंग Glacier को लाहौल स्पीती का मनीमहेश भी कहा जाता है। / Gefeng Glacier is also known as Mani Mahesh of Lahaul Spiti.
  • गेफेंग Glacier लाहौल स्पीती में स्थित है। इस Glacier का नाम lahaul के प्रसिद्ध नेता गेफांग के नाम पर रखा गया है
  • गेफांग का सराहन” में इनका मन्दिर है।  

मियार ग्लेशियर / Miyar glacier:

  • यह Glacier Lahaul-Spiti में स्थित है।
  • इस Glacierकी लम्बी 12km है।
  •  इस Glacierसे Miyar नदी को पानी मिलता है।

चन्द्रा ग्लेशियर / Chandra Glacier:

  • यह Glacier लाहौल स्पीती में स्थित है।
  • चन्द्रताल झील का निर्माण इसी Glacier से हुआ है।
  • चन्द्रा ग्लेशियर बड़ा शिगड़ी Glacier से अलग हुआ है।
  • यह Glacier चन्द्रा और भागा नदियों को पानी देता है और आगे चलकर ये चिनाब नदी का रूप धारण कर लेती है।  

पार्वती ग्लेशियर / Parvati Glacier:

  • यह Glacier Kullu District में स्थित है
  • इस Glacier की लम्बी 15km है
  • इस Glacier से पार्वती नदी को पानी मिलता है
  • पार्वती नदी को Parvati Glacier,दुधोंन Glacier और मुलकिया और मियार Glacier (ये दोनों Glacier District Lahaul-Spiti में है ) से पानी मिलता है।
  • Parvati project is Himachal Pradesh’s largest hydro power project./ पार्वती  परियोजना हिमाचल प्रदेश की सबसे बड़ी जल विद्युत परियोजना है।(2050 मेगावाट)
  • पार्वती परियोजना में 5 राज्यों ने 20,octobar,1992 में समझोता किया।
  • यह 5 राज्य है Punjab, Rajasthan, Delhi, Gujarat, Himachal Pradesh.

भादल ग्लेशियर / Bhadal Glacier:

  • Bhadal Glacier पीरपंजाल श्रृंखला की दक्षिण पश्चिम ढलान पर काँगड़ा के बड़ा भांगल क्षेत्र में स्थित है ये Glacier district Kangra में स्थित है। 
  • इस Glacier से भादल नदी को पानी मिलता है।    
  • Bhadal River रावी नदी की सबसे बड़ी सहायक नदी है।  

ब्यास कुण्ड ग्लेशियर / Beas Kund Glacier:

  • Beas Kund Glacier Kullu District में स्थित है।
  • यह Glacier “Rohtang Pass/ रोहतांग दर्रा” के पास स्थित है और इस Glacier से ब्यास नदी को पानी मिलता है।

चन्द्रनाहन Glacier:

  • यह Glacier Shimla District के रोहडू क्षेत्र में स्थित है।
  • इस Glacier से “पब्बर नदी/ Pabar River” को पानी मिलता है।
  • चन्द्रनाहन Glacier के समीप चन्द्रनाहन झील स्थित है।   

The Lady Of Keylong Glacier:

  • यह Glacier Lahaul-Spiti में स्थित है।   
  • यह Glacier 6061 मीटर की ऊंचाई पर स्थित है।
  • इस Glacier का नाम “लेडी एलशेन्दे / Lady Elshende” किया गया था।

दूधोन Glacier:

  • यह Glacier District Kullu में स्थित है।
  • इस Glacier की लम्बाई 15 km है।
  • इस Glacier से पार्वती नदी को पानी मिलता है।

    Like Our Facebook Page Community

    Click Here: @sscsarkariexam  

     

   

 

 

 

 

 

 

 

 

 

       

 

Share Now

Related posts

Leave a Comment